लखनऊ में दिन दहाड़े गार्ड की हत्या कर बैंक में लूट

| बड़ी ख़बरे
Loot-image-e1373970138180-650x430
लखनऊ न्यूज 30 ब्यूरो– कभी दिनदहाड़े बीच सड़क पर एटीएम लूट कर तीन लोगों की हत्या कर दी जाती है तो कभी राष्ट्रीय राजमार्ग पर सरेराह कैशवैन रोक कर बैंक के गार्ड को मार दिया जाता है। राजधानी की ध्वस्त कानून-व्यवस्था का इतना परिचय कम पड़ रहा था कि असलहों से लैस बेखौफ बदमाशों ने शनिवार दोपहर करीब एक बजे चिनहट के सतरिख रोड पर सराय शेख गांव स्थित भारतीय स्टेट बैंक में धावा बोला और गेट पर तैनात सुरक्षा गार्ड 35 वर्षीय श्रवण कुमार की लाइसेंसी बंदूक छीन ली। इसका विरोध करते ही लुटेरों ने गार्ड के सीने में गोली दाग दी। उसके बाद बदमाश शाखा प्रबंधक प्रिया तिवारी को निशाने पर लेने के बाद कैशियर सुरेश कुमार गुप्ता, कैंटीन संचालक अमित के अलावा बैंक में रूपये निकालने आई एक महिला समेत चार लोगों को चुप रहने की हिदायत देकर लॉकर में रखी 80 हजार रूपये लूट कर मौके से भाग निकले। खून से लथपथ गार्ड को राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया, जहां गार्ड को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर मौके पर डीआईजी डीके चौधरी, एसएसपी राजेश कुमार पांडेय सहित कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और डॉग स्क्वायड एंव फिंगर पिं्रट दस्ते के साथ छानबीन की,लेकिन लुटेरों का कोई सुराग नहीं लग सका। एक संदिग्ध बाइक जुग्गौर गांव के पास रेलवे क्रासिंग के पास पड़ी मिली जो लुटेरों की बतायी जा रही है। एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि बदमाशों की तलाश के लिए स्थानीय पुलिस के अलावा क्राइम ब्रांच एवं सर्विलांस सेल को सौंपी गई है।
सराय शेख गांव स्थित एक मकान में भारतीय स्टेट बैंक की शाखा है। शनिवार दोपहर करीब एक बजे सीतापुर जिले के हंसखेड़ा गांव निवासी 35 वर्षीय श्रवण कुमार बैंक के गेट पर मुस्तैद थे,जबकि शाखा प्रबंधक प्रिया तिवारी अपने दफ्तर तथा आशियाना स्थित एलडीए कॉलोनी निवासी कैशियर सुरेश कुमार गुप्ता अपने काउंटर पर थे और गोमतीनगर निवासी वार्ड व्याव अमित अपने काम में व्यस्थ था। यही नहीं बैंक से रूपये निकालने के लिए नंदपुर गांव निवासी रौशन तारा खातून, चिनहट निवासी दिलीप एवं अरविन्द प्रजापति आये थे। बताया गया कि इसी दौरान दो बाइक पर चार नकाबपोश बदमाश आये और गेट पर तैनात सुरक्षा गार्ड श्रवण को घसीटते हुए बैंक के भीतर ले गये और उसकी लाइसेंसी बंदूक छीनने लगे। जैसे ही श्रवण इसका विरोध किया तो एक लुटेरे ने श्रवण के सीने में गोली मार दी। गोली लगते ही वह लहूलुहान होकर फर्श पर गिर पड़े। बताया गया कि गार्ड को गोली मारने के बाद दो बदमाश प्रबंधक प्रिया तिवारी के पास पहुंचे और उन्हें जान से मारने की धमकी देकर स्ट्रांग रूम की चाभी मांगी तो तीसरा बदमाश अपने काउंटर पर मौजूद कैशियर सुरेश कुमार गुपता और वार्ड व्याय पास पहुंच कर उन्हें निशाने पर ले लिया और बैंक में रूपये निकालने गई महिला सहित चार लोगों को चुप रहने की हिदायत दी। बदमाशों का कहर देख प्रबंधक प्रिया सहित सभी सहम गये और लॉकर में रखी 80 हजार रूपये की नकदी लूट कर जुग्गौर गांव की ओर भाग निकले। दिनदहाड़े हुई घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि एक संदिग्ध मोटरसाइकिल जुग्गौर रेलवे क्रासिंग के पास संदिग्ध हालत में खड़ी मिली है, जिसे कब्जे में लेकर गहन छानबीन की जा रही है। एसएसपी का कहना है कि लुटेरों की धरपकड़ के लिए एसपी क्राइक ज्ञानप्रकाश चतुर्वेदी की टीम के अलावा सर्विलांस सेल टीम को भी जिम्मेदारी सौंपी गई है। संदेह के आधार पर पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please enter the Text *







'); var MainContentW = 1070; var LeftBannerW = 120; var RightBannerW = 160; var LeftAdjust = 10; var RightAdjust = 10; var TopAdjust = 80; ShowAdDiv(); window.onresize=ShowAdDiv; }