लखनऊ में मां की हत्या बाद खुदकुशी

| बड़ी ख़बरे
shooting-crime-scene-body-outline-murder

लखनऊ न्यूज 30 ब्यूरो- गोसाईगंज में कलयुगी बेटे ने मामूली कहासुनी में मां जानकी उर्फ प्रेमा देवी (60) की गला दबाकर हत्या कर दी। मां की हत्या करने के बाद हत्यारे ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घर पहुंच मृतक के चाचा ने पुलिस को वारदात की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसओ गोसाईगंज का कहना है कि पुलिस ने गैरइरादतन हत्या की धारा में रिपोर्ट दर्जकर ली है। एसओ गोसाईगंज अरविन्द कुमार पाण्डेय ने बताया कि टिकरिया मजरा पहाडनगर में बुजुर्ग जानकी देवी (60) बेटे पवन गौतम (28) के साथ रहतीं थीं। पति शोला प्रसाद की मौत के बाद वह काफी तनाव मंे रहतीं थीं, जिसके कारण उनकी मानसिक स्थिति सही नहीं थी। इसके साथ ही पवन की भी मानसिक स्थिति सहीं नहीं थी। जानकी की तीन बेटियां हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। बेटे की मानसिक स्थिति सही नहीं होने के कारण अक्सर वह मां से विवाद करता था। विवाद करने पर जानकी बेटे की पिटाई कर देतीं थीं। किसी बात को लेकर मां-बेटे के बीच विवाद हो गया। विवाद बढ़ने पर वह मां जानकी की डण्डे से पिटाई शुरू कर दी। चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पास के लोगों की भीड़ जुट गई। तभी चचेरा भाई रामसिंह भी मौके पर पहुंच गया। रामसिंह ने पवन को समझाने का प्रयास किया तो वह गालियां देकर उसे भगा दिया। इस पर रामसिंह घर पहुंचा और पिता माता प्रसाद को इसकी जानकारी दी। इस पर माता प्रसाद भाई संजीवन लाल और बेटे रामसिंह के साथ मौके पर पहुंचे तो जानकी का शव चारपाई पर पड़ा हुआ था। यह देख वह पवन की तलाश शुरू कर दिये। उसका पता नहीं लगने पर वह कमरे में झांककर देखते तो उसका शव साड़ी के फंदे से लटका हुआ था। यह देख संजीवन लाल ने पुलिस को आनन-फानन में सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के बाद मां-बेटे के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भजे दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please enter the Text *







'); var MainContentW = 1070; var LeftBannerW = 120; var RightBannerW = 160; var LeftAdjust = 10; var RightAdjust = 10; var TopAdjust = 80; ShowAdDiv(); window.onresize=ShowAdDiv; }