अखिलेश यादव के मंत्रिमंडल विस्तार में यादव ,मुसलमानों की हिस्सेदारी बढ़ी

| ख़बरें अब तक
akhilesh-yadav-11111re

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के मंत्रिमंडल के विस्तार में यादव ,मुसलमानों की हिस्सेदारी बढ़ी है तो तो दलित पिछड़ों समेत जातीगत समीकरण साधने की भी पूरी कोशिश की गयी है । लेकिन इन सबके बीच अखिलेश ने बहराईच से विधायक बँशीधर बौद्ध को मंत्रीमंडल में शामिल कर लोकतंत्र की सत्वीर पेश की है । बंशीधर अपनी सादगी और संघर्ष के लिए जाने जाते है । विधायक बनने क बाद भी बंशीधर झोपड़ी में रहकर क्षेत्र का विकास करते है ।  अखिलेश के मंत्रिमडंल विस्तार में 11 नये चेहरों को शामिल किया गया है । बेशक साढे तीन साल बाद अखिलेश के इस मंत्रिमंडल विस्तार में लक्ष्य 2017 साधने की कोशिश नजर आती है । जिसमें युवाओं की फौज के साथ – साथ अनुभवी चेहरें भी शामिल है । ये अखिलेश का मंत्रिमंडल है जिसमें शामिल होने वाले हर चेहरे के पीछे नफा नुकासन का समीकरण भी साधा गया है । लेकिन कद्दावर और रसूख वाले नेताओं को टीम में जगह देने के साथ – साथ इस बार असल मायने में समाजवाद का एक चेहरा भी मंत्रिमंडल में नजर आया । नाम बंशीधर बौद्ध ।

 कर्तनिया घाट जंगल में बसे वन ग्राम टेड़िया चहलवा के रहने वाले बंशीधर  यू तो तीन दशक पहले से राजनीति में है लेकिन लोकसभा चुनाव में बलहा की विधायक सावित्री बाई फुले भाजपा की सीट से चुनाव जीत गई तो खाली हुई सीट पर बंशीधर ने अपना कब्जा जमा लिया । बारहवी पास बंशी धर ने चाकीदारी की पंचर बनाये । बंशीधर आज भी झोपड़ी में रहते है । खेती किसानी करते है और विधायक नीधि को क्षेत्र के विकास में खर्च करते है । लेकिन जब अखिलेश के नये मंत्रिमंडल में बंशीधर ने राज्यमंत्री के पद की शपथ ली तो उनका संघर्ष देख लोकतंत्र का सीना भी चौड़ा हो गया ।

बंशीधर की सादगी के गवाह खुद मुख्यमंत्री भी बन चुके है । 16 जुलाई को जब मुख्यमंत्री जब बंशीधर के बेटी की शादी में गये तब बंशीधर ने मुख्यमंत्री को अपनी झोपड़ी में ले जाकर आवभगत की । बंशीधर का पंचर बनाने से लेकर राज्यमंत्री बनने का तक सफर भले ही काटों भरा रहा हो लेकिन ऐशो आराम के आदी हो चुके नेताओं को राजनीतिज्ञों के लिए मिसाल जरूर है साथ ही उन गरीबों के लिए को गरीबी के कारण आगे बढ़ने का रास्ता नही ढ़ूढ पाते ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please enter the Text *







'); var MainContentW = 1070; var LeftBannerW = 120; var RightBannerW = 160; var LeftAdjust = 10; var RightAdjust = 10; var TopAdjust = 80; ShowAdDiv(); window.onresize=ShowAdDiv; }