राजधानी में कानून-व्यवस्था की खुली पोल,6 माह में 3 दर्जन वारदाते

| ख़बरें अब तक महानगर
Theft-crime

लखनऊ न्यूज 30 ब्यूरो– राजधानी में कानून-व्यवस्था ध्वस्थ हो गई है। शहरी इलाके से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में लुटेरों और हत्यारों का राज है। शहरवासी चौक के क्राकरी व्यवसायी डबल मर्डर समेत हसनगंज में एटीएम बूथ लूटकाण्ड़ और ट्रिपल मर्डर की वारदात को भुला भी नहीं पाये थे कि माल इलाके में बेखौफ बदमाशों तिहरे हत्याकाण्ड को अंजाम दे डाला। पिछले में 6 माह में हुयी तीन दर्जन से अधिक वारदातों ने आधुनिक पुलिस को कठघरे में लाकर खड़ा कर दिया है।
इन वारदातों ने खोली पुलिस आधुनिकता की पोल……….
केस नंबर 1
 06 नवंबर 2015: राजधानी के मॉल इलाके के थावर गांव में बेखौफ बदमाशों ने घर में घुसकर एक ही परिवार के डॉक्टर दम्पत्ति समेत तीन लोगों की धारदार हथियार से ताबड़तोड़ वार कर निर्मम हत्या करके मौत की नींद सुला दिया।
केस नंबर 2
 05 नवंबर 2015: राजधानी के गुड़म्बा इलाके में रहने वाले एक बुजुर्ग का सड़ा गला हुआ शव उसके घर से आज बरामद किया गया। पुलिस का मानना है कि बुजुर्ग की मौत बीमारी के चलते हुई वहीं लोग हत्या की आशंका जता रहे हैं।
केस नंबर 3
 04 नवंबर 2015: राजधानी के चिनहट थानाक्षेत्र के देवा रोड स्थित जैनाबाद गांव में बेखौफ बदमाशों ने बुधवार को दिनदहाड़े एक निजी कंपनी में कार्यरत मिस्त्री भीबली कुशवाहा की 38 वर्षीय पत्नी सुभावती कुशवाहा की गला दबाकर हत्या कर दी।
04 नवंबर 2015: आशियाना इलाके में दोस्तों ने एक युवक को पीट-पीटकर मार डाला। वह अधमरा हालत में झाडिय़ों में पड़ा हुआ था। सूचना के बाद पुलिस ने उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां उपचार के दौरान डॉॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
केस नंबर 4
03 नवंबर 2015: राजधानी के सरोजनीनगर थानाध्यक्ष की पिटाई से अधमरे पूर्व पत्रकार व लेखक राजीव चतुर्वेदी की मौत हो गर्ई। थानाध्यक्ष के मातहतों ने बड़ी चतुराई के साथ उन्हें सीएचसी में भर्ती कराया था। चालक ने जब उनकी तलाश में मोबाइल पर फोन किया तो पता चला कि सीएचसी में उनकी मौत हो चुकी है।
04 नवंबर 2015: लाश ठिकाने लगाने के लिए सेफ प्लेस बन चुकी राजधानी के कैण्ट इलाके में हत्या करके ठिकाने लगायी गयी एक महीने पुरानी सड़ी-गली लाश एक गढ्ढे में मिलने से सनसनी फैल गयी। एक महीने से गायब अपने २५ वर्षीय बेटे की खोज-बीन में लगा भाई उसके दौस्त द्वारा दी गयी जानकारी पर मौके पर पहुंचा। जिसके बाद पुलिस को जानकारी हुयी।

 केस न0 5

01 नवंबर 2015: राजधानी के हजरतगंज इलाके के नरही में बुजुर्ग महिला की अंतिम यात्रा के दौरान हिस्ट्रीशीटर ने कनपटी पर गोली मारकर मरणासन्न कर दिया वह ट्रामा सेंटर में जिंदगी मौत से जूझ रहा है।
केस नंबर 6
3 जनवरी 2015: कृष्णानगर में ऑटो चालक हत्याकांड में सीसीटीवी कैमरे लगे होने के बावजूद ऑटो ड्राइवर दिलीप कुमार पाण्डेय की 180 रुपए भाड़े को लेकर पांच लोगों ने हत्या कर दी। सीसीटीवी के तमाम तामझाम धरे के धरे रह गए।
केस नंबर 7
17 जनवरी 2015: राजधानी के बेहद ही व्यस्ततम बर्लिंगटन चौराहे से दिनदहाड़े टप्पेबाज एक करोड़ 33 लाख रुपए से भरा बैग लेकर पैदल ही चंपत हो गए। उनकी यह करतूत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।
केस नंबर 8
1 फरवरी 2015: राजधानी के बहुचर्चित गौरी हत्याकांड ने पुलिस की नींद हराम कर दी थी पुलिस ने गाड़ी नंबर पुलिस को बहुत मुश्किल से मिला घटिया फुटेज के कारण पूरा का पूरा केश उलझता रहा लेकिन बाद में पुलिस ने बेगुनाहों को जेल भेजकर खुलासा कर दिया।
केस नंबर 9
27 फरवरी 2015: हसनगंज थाना क्षेत्र के बाबूगंज स्थित एटीएम बूथ पर दिनदहाड़े तीन लोगों की गोली मारकर मौत की नींद सुलाने के बाद बाइक सवार बेखौफ खूनी लुटेरे नोटों से भरा कैश बाक्स लूट ले गये थे। पुलिस इस तिहरे हत्याकांड के खुलासे के लिए एक थ्योरी नहीं बल्कि कई तहर की रणनीति तैयार कर पुलिस ने काफी भागदौड़ कीए लेकिन आज भी अपराधियों को नहीं ढूंढ सकी।
केस नंबर 10
11 सिंतबर 2015: जानकीपुरम स्थित रसूलपुर कायस्थ कॉलोनी वासी अपने-अपने घरों में चेन की नींद फरमा रहे थे कि इसी कॉलोनी में रहने वाले टिबंर व्यवसायी विजय पाल और अनुपम पांडेय के घर पर लाठी-डंडों से लैस डकैतों ने धावा बोल दिया। बदमाशों ने पीट-पीटकर मौके पर ही अनिल को मौत की नींद सुला दिया।
केस नंबर 11
30 सितम्बर 2015:  एसपीटीजी कार्यालय से थोड़ी दूर गाजीपुर  थानाक्षेत्र के लेखराज मार्किट के पास समीप एक 55 वर्षीय महिला से दो बाइक सवार लुटेरों ने चेन लूट ली और फरार हो गए।
केस नंबर 12
3 अक्टूबर 2015:  राजधानी के बख्शी का तालाब थाना क्षेत्र में अपाचे बाइक सवार दो नकाबपोश बदमाश आये और रिचार्ज की बात करते हुए असलहा तान दिया व दुकान पर मौजूद लोगों को पीटने लगे।  पीटने के बाद उक्त नकाबपोश दुकान से लगभग 70 हजार रकम के रिचार्ज कूपन,नगदी रु 50 हजार व,कुछ मोबाइल फोन व सिगरेट की डिब्बी आदि लेकर फरार हो गए।
केस नंबर 13
3 अक्टूबर 2015: दूसरी ओर बीकेटी क्षेत्र में ही कुम्हरावा गाँव निवासी राजेश मिश्रा किसी काम से कुम्हरावा से बीकेटी की ओर जा रहे थे तभी ग्राम जोतपर के पास अतरौरा मोड़ पर उन्हें दो बाइक सवार बदमाशों ने रोक लिया व असलहे के दम पर नगदी रु 1500 व मोबाइल फोन लूट लिया व फरार हो गए।
 केस नंबर 14
 7 अक्टूबर 2015: राजधानी के इंदिरानगर थाना क्षेत्र के सूर्या सिटी तकरोही के मकान संख्या 102 में 4 बेख़ौफ़ बदमाश घुसे और घर में मौजूद महिला को असलहे की बट से मारकर लहूलुहान कर दिया। उस वक्त घर में प्रमोद कीपत्नी नीलम(34) व 1 वर्षीय पुत्र कुंदन था। बदमाशों ने कुंदन को ढाल बना लिया व नीलम कीकनपटी पर असलहा लगा दिया।
केस नंबर 15
18 अक्टूबर 2015: बीकेटी थानाक्षेत्र के चन्द्रिका देवी मंदिर में रविवार को दर्शन करने गयी गोमतीनगर निवासी रीना व आलमबाग निवासी शांति देवी की भीड़ के चलते लुटेरों ने चेन लूट ली पुलिस सीसीटीवी कैमरे की फुटेज के आधार जाँच में जुटी रही।
केस नंबर 16
18 अक्टूबर 2015: चिनहट के कमता के अजय नगर स्थित प्रीति नगर कालोनी निवासी अरुणा त्रिपाठी अपने घर के पीछे स्थित एक मकान में भजन-कीर्तन सुनने गयी हुई थी। वापस लौटते समय घर से कुछ ही दूरी पर बाइक सवार अज्ञात बदमाशों ने झपट्टा मारकर गले से सोने की चेन छीन ली।
 केस नंबर 17
18 अक्टूबर 2015: गोमतीनगर के पत्रकारपुरम निवासी सैरभ श्रीनायक की पत्नी सुुधा गोमतीनगर से घर वापस रिक्शे से जा रही थी। तभी विरामखण्ड के पास बाइक सवार लुटेरे पीछे से आये और अचानक से उसके पर्स परझपट्टा मारा और छीन कर फरार हो गये।
केस नंबर 18
27 जून 2015:  चिनहट में दर्जन भर डकैतो ने फ़ूड विभाग के एक रिटायर्ड ज्वाइंट कमिश्नर समेत उनके  घरवालो को बंधक बनाकर करीब एक करोड़ की  लूट की।
केस नंबर 19
27 जुलाई 2015: राजधानी के मलिहाबाद इलाके में बंशीगढ़ी जंगल में सिरगामऊ गांव निवासी प्रेमी युगल सरोज व सूरज की हत्या युवती के सगे भाइयों ने कर दी आरोपियों से पूछताछ की गयी तो दोनों ने सरोज व सूरज की गला दबाकर हत्या करने की बात कबूली।
केस नंबर 20
12 अक्टूबर 2015:  लखनऊ के मनकनगर इलाके में चोरो ने मोबाइल की दुकान का ताला तोड़कर 25 लाख की कीमत के मोबाईल और नगदी उड़ाई सारी वारदात सीसीटीवी में कैद पुलिस अब तक कुछ न कर पाई।
केस नंबर 21 
24 अक्टूबर 2015: लखनऊ के गोसाईगंज थानाक्षेत्र में बाइक सवार बदमाशों ने दीनदयालनगर बाजार में सरेराह स्कार्पियो सवार प्रॉपर्टी डीलर अन्नू यादव की गोली मारकरहत्या कर दी।
 केस नंबर 22
 25 अक्टूबर 2015 लखनऊ के जानकीपुरम इलाके में भारतीय जनता पार्टी की मण्डलाउपाध्यक्ष सुमन वर्मा के घर पर अज्ञात बदमाशों ने दोपहर बम से हमला कर दिया, हमले में कोई हताहत नहीं हुआ।
 केस नंबर 23
18 अक्तूबर 2015: चिनहट के निजामपुर मल्हौर गांव निवासी रामगोपाल यादव की हत्या कर दी गई। बदमाशों ने लाठी-डंडों से वारकर मौत की नींद सुलाया था। हमेशा की तरह पुलिस शुरूआती दौर में तेजी दिखाई और इसी गांव के कई बूढ़े और नई उम्र के युवकों पर निशाना साधा और उन्हें हिरासत में लेकर गहन पूछताछ की। इस पर भी सफलता नहीं मिली।
केस नंबर 24
23 अक्टूबर 2015: पारा में असलहों से लैस मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने एक बर्तन व्यवसायी को उस समय गोली मारी जब वह मंगलवार अपनी दुकान के सामने टहल रहे थे। गोली कमर, सिर तथा आंख में लगी। खून से लथपथ व्यवसायी को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया।
 केस नंबर 25
 28 अक्टूबर 2015: कृष्णानगर इलाके में एक लावारिस 35 वर्षीय व्यक्ति का शव रेलवे लाइन पर पड़ा मिला। वहां पहुंचे ट्रैक मैन ने देख सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा मृतक की शिनाख्त कराने का प्रयास किया गया लेकिन सफलता हासिल न हो सकी।
 केस नंबर 26
3 अक्टूबर 2015: राजधानी के काकोरी थानक्षेत्र में एक खाली पड़े प्लाट में युवक का सड़ा गला शव बरामद हुआ है। स्थानीय लोगों के अनुसार युवक की हत्या करके शव फेका गया पुलिस आज तक सुराग नहीं लगा सकी।
 केस नंबर 27
2 अक्टूबर 2015: गाँधी जयन्ती के दिन किसी साजिश के तहत भयानक ट्रेन दुर्घटना को अजांम देने के इरादे से अराजक तत्वो द्वारा मोहनलालगंज के गौरा गाँव के पास लखनऊ-रायबरेली रेल खन्ड के एक रेलवे लाइन की एक पटरी को लगभग डेढ फीट काट दिया जिससे बड़ा हादसा होते होते बच गया।
केस नंबर 28
16 सितम्बर 2015: राजधानी के निगोहा थानाक्षेत्र में शौच के लिए गयी किशोरी को पकड़कर गाव के ही युवक ने झाडि़यो में खींचकर जबरन दुराचार किया पीडि़ता ने आप बीती घर जाकर अपनी माँ को बताई तो उसके होश उड़ गए।
 केस नंबर 29
16 सितम्बर 2015: मलिहाबाद थाना क्षेत्र के गढ़ी जिन्दौर के मजरे गदियाखेड़ा निवासी एक विवाहिता को एक शिक्षक ने मंजिल तक पहुचाने की बात कहकर बाइक पर बैठाकर झाडि़यो में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।
केस नंबर 30
16 सितम्बर 2015: ताबड़तोड़ अपराधिक घटनाओं से दहल रही राजधानी लखनऊ में फिर से एक दिल दहला देने वाली घटना ने दस्तक दी। मडि़यांव थाना क्षेत्र में एक युवक की निर्मम हत्या कर दी गयी। बंद कमरे से आ रही बदबू की सूचना स्थानीय लोगों ने पुलिस को दी तो पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बंद दरवाजे का ताला तोड़ा। दरवाजे के खुलते ही सामने का नजारा दिल दहला देने वाला था।
केस नंबर 31
16 सितम्बर 2015: राजधानी के वजीरगंज थाना अंतर्गत परिवहन आयुक्त कार्यालय से कुछ दूरी पर और गोमती नदी के किनारे झाडि़यो में नवजात बच्चे का शव मिलने से इलाके में हड़कम्प मच गया। लोगो ने देखा की झाडि़यो में पड़े नवजात को कुत्ते नोच रहे थे।
केस नंबर 32
16 सितम्बर 2015: राजधानी के गाजीपुर थानाक्षेत्र में टप्पेबाजों ने कर का शीशा तोड़कर 60 हजार की नगदी और कागजात पार कर दिए मालिक जब वापस आया तो शीशा टूटा देख उसके होश उड़ गए।
 केस नंबर 33
केस नंबर एक- जुलाई माह में गोसाईगंज के अमेठी कस्बे में ही एक महिला ने गांव के कोटेदार पर तीन महीने तक बंधक बनाकर दुराचार किए जाने का आरोप लगाया था। यहां भी पुलिस की जांच में सामने आया था कि महिला ने रंजिशन रिपोर्ट दर्ज कराने का दबाव बनाया था।
 केस नंबर 34
जुलाई माह में अलीगंज से एक 12 वर्षीय किशोरी को अगवा कर गैंगरेप की घटना ने भी हड़कम्प मचा दिया था।
 केस नंबर 35
 20 अगस्त 2015: महानगर इलाके में के निशातगंज से दिनदहाड़े एक युवती को अगवा कर गैंगरेप का मामला सामने आया था। युवती का आरोप था कि वैन सवार चार लड़के और तीन लड़कियों ने उसे अगवा किया और एक जंगल में ले जाकर गैंगरेप किया।
 केस नंबर 36
अगस्त माह में मोहनलागंज के गोपालखेड़ा गांव में एक किशोरी के परिजनों ने मुर्गी फार्म पर काम करने वाले चचेरे भाईयों पर बेटी को अगवा कर गैंगरेप किए जाने का अरोप लगाया था।
 केस नंबर 37
अगस्त माह में गोसाईगंज में एक ईंट भठ्ठ पर काम करने वाली किशोरी ने गांव के ही युवक पर कीटनाशक पिला कर अगवा करने व दुराचार का आरोप लगाया था।
 केस नंबर 38
 10 अक्टूबर 2015: गोमतीनगर के मकदूमपुर चौकी के झोपड़ी डालकर रहने वाली एक महिला ने पड़ोस में झोपड़ी में रहने वाले सुभाष नाम के व्यक्ति पर गैंगरेप का आरोप लगाया।
 केस नंबर 39
10 जुलाई 2014: गोसाईगंज के मलेशेमऊ गांव के पास चक गंजरिया फार्म हाउस के जंगल में गुरुवार को बबूल के पेड़ से दो शव लटके मिले थे लोगो ने पुलिस को जानकारी दी पुलिस के मुताबिक कई दिन पुराने शव थे जिन्हे हत्या कर लटकाया गया था आज तक उनकी शिनाख्त भी नहीं हो सकी।
 केस नंबर 40
31 अगस्त 2014: निगोहा इलाके में पिकप सवार नकाबपोश छह बदमाशों ने लखनऊ से रायबरेली जा रहे पान मसाला लदे डीसीएम को लूट लिया।
 केस नंबर 41
15 जुलाई 2014: मोहनलालगंज क्षेत्र में असलहों से लैस मारूति वैन सवार चार बदमाशों ने गिट्टी लादकर जा रहे ट्रक चालक व खलासी को बंधक बनाकर 50 हजार रूपये लूट कर भाग निकले। केस नंबर केस नंबर 42
30 अक्तूबर 2014: चौक स्थित लाजपतनगर निवासी क्राकरी व्यवसायी अमित दुलानी और उसके नौकर दशरथ को मोटरसाइकिल सवार बदमाशों ने सीने में गोली मारकर जान ली थी जब वह सुबह अपनी दुकान पर बैठे थे।
केस नंबर 43
9 दिसंबर 2014:  राजभवन के सामने एक कंसेशन कंपनी के मुनीम से 19 लाख रुपए की लूट का पर्दाफाश करने में सीसी टीवी कैमरा काम नहीं आया सीसीटीवी कैमरा खराब होने के कारण घटना का खुलासा करने में बड़ी दिक्कत आई।
क्या कहते हैं एसएसपी
एसएसपी राजेश पाण्डेय ने बताया कि मॉल में हुए ट्रिपल मर्डर की वारदात को अंजाम पुरानी रंजिश के तहत की गई है। घर में रखा सामान व्यवस्थित है। मृतक के भाई रामप्रकाश ने बताया कि चिकित्सक का स्थानीय निवासी राजाराम और प्रेम से बीसी को लेकर विवाद चल रहा है। पीड़ित ने दोनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है और हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है वहीं पुरानी ज्यादातर घटनाओं का खुलासा हो चूका है कुछ घटनाये बची है जिनका भी जल्द खुलासा कर दिया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please enter the Text *







'); var MainContentW = 1070; var LeftBannerW = 120; var RightBannerW = 160; var LeftAdjust = 10; var RightAdjust = 10; var TopAdjust = 80; ShowAdDiv(); window.onresize=ShowAdDiv; }