नाहरगढ़ किले से लटकी मिली लाश पर बड़ा खुलासा

| ख़बरें अब तक राज्य
Jaipur nahargarh fort chetan saini murder sucide fsl report

जयपुर के नाहरगढ़ किले से लटके मिले चेतन सैनी नाम के शख्स की मौत पर फोरेंसिक रिपोर्ट में बड़ा खुलासा हुआ है । रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चेतन सैनी की हत्या नहीं की गई थी, बल्कि उसने आत्महत्या की थी। इतना ही नहीं सैनी की लाश के इर्द-गिर्द पत्थरों पर फिल्म पद्मावती से जोड़कर लिखे गए नारे खुद चेतन की हैंडराइटिंग में ही थे ।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि चेतन सैनी की लाश के पास किसी दूसरे व्यक्ति के आने का सबूत नहीं मिला है। फोरेंसिक रिपोर्ट के अनुसार, पत्थरों पर लिखे मिले सांप्रदायिक उन्माद के नारों की हैंडराइटिंग चेतन की डायरी में दर्ज हैंडराइटिंग से मैच हो रही है । पत्थरों पर लिखे नारे फ्री हैंडराइटिंग हैं, मतलब किसी ने जबरन नहीं लिखवाया है उसने वो नारे खुद लिखे हैं ।

Jaipur nahargarh fort chetan saini murder

एफएसएल की रिपोर्ट के अनुसार चेतन ने खुद ही फंदा लगाया था। वही सबसे महत्तपूर्ण बात ये है कि चेतन की विसरा रिपोर्ट में आया है कि उसने घटना के समय ना तो शराब का सेवन कर रखा था ना ही किसी तरह के जहर का । चेतन सैनी के शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान भी नहीं मिले, जो उसके साथ जोर-जबरदस्ती या मारपीट की भी पुष्टि नहीं हुआ ।




चेतन सैनी ने मौत से ठीक पहले सेल्फी भी ली थी, जिसकी जांच भी की गई. सेल्फी की जांच में सामने आया है कि तस्वीर में किसी अन्य व्यक्ति की परछाईं तक नहीं है । बता दे कि जब पूरे देश में फिल्म पद्मावती को लेकर जबरदस्त हंगामा मचा हुआ था तब नाहरगढ़ किले से चेतन सैनी की रस्सी से झूलती लाश मिली थी । चेतन की लाश के इर्द-गिर्द पत्थरों पर पद्मावती से ही जुड़े ढेरों नारे भी लिखे मिले थे, जिनमें सांप्रदायिक उन्माद की बातें थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please enter the Text *







'); var MainContentW = 1070; var LeftBannerW = 120; var RightBannerW = 160; var LeftAdjust = 10; var RightAdjust = 10; var TopAdjust = 80; ShowAdDiv(); window.onresize=ShowAdDiv; }