मां के खातिर लैपटॉप पर दूल्हे ने भरी दुल्हन की मांग, वजह जान कर हो जाएंगे हैरान

| ख़बरें अब तक खास खबरे
Son get married through skype for his mother last wish

मां की आखिरी ख्वाहिश पूरी करने के लिए एक बेटे ने लेपटॉप के जरिए अपनी होने वाली दुल्हन से शादी कर ली ।कोलकाता में एक बेटे ने अस्पताल के भीतर ही दूल्हा बन स्काइप के जरिए शादी की। दूल्हे की मां कैंसर से जूझ रही है और वो इस हालत में नहीं है कि अस्पताल से कुछ समय के लिए भी बाहर जा सके। ऐसे में कैंसर पीड़ित मरीज के बेटे ने तय किया कि वह अपनी मां की जिंदगी के आखिरी पड़ाव में उनकी अंतिम इच्छा को पूरा करेंगे। इसके लिए उन्होंने विदेश में रह रही दुल्हन से स्काइप के जरिए शादी की।

इस शादी के लिए अस्पताल प्रबंधन ने भी कई इंतजाम किए। रूबी जनरल अस्पताल के एक कमरे को वैवाहिक स्थल में बदल दिया गया। 33 वर्षीय भास्कर रॉय बरधान जो कि स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ न्यू यॉर्क में असिस्टेंट प्रफेसर हैं और चंद्रिमा चटर्जी जो यूएस में पीएचडी की स्टूडेंट हैं 15 दिसंबर को शादी करने वाले थे लेकिन भास्कर की मां कैंसर की आखिरी स्टेज में हैं। वह एक हफ्ते से अस्पताल में भर्ती हैं और वहां उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई है।

भास्कर का कहना है कि मां को इस बात की हमेशा चिंता रहती थी कि वह अपने बेटे की शादी को देख पाएंगी या नहीं। इसकी वजह से हमने शादी के लिए 15 दिसंबर तक इंतजार नहीं किया। भास्कर ने तय किया कि वे अस्पताल में ही स्काइप के जरिए शादी करेंगे। इसके बारे में उनकी मां को कुछ भी नहीं बताया। उनके इस कदम का अस्पताल ने भी साथ दिया और एक कमरे में इंतजाम किया। इसके बाद भास्कर की मां को उस कमरे में शिफ्ट किया गया और उन्हें एक लैपटॉप दिया गया।

Son get married through skype for his mother

दूल्हे ने अपनी मां को बताया कि अब वैवाहिक कार्यक्रम शुरू होने वाला है। स्काइप के जरिए शादी हुई। दूल्हे ने अपनी मां को बताया कि अब वैवाहिक कार्यक्रम शुरू होने वाला है। स्काइप के जरिए दूल्हा-दुल्हन ने अपनी रस्में निभाते हुए वचन लिए। इस दौरान दूल्हे की मां भास्मती भी खुश दिखीं।




इस शादी के बाद भास्कर ने कहा, ‘मेरी मां बहुत कमजोर होने की वजह से कुछ बोल नहीं पा रहीं थीं। मैं उनके चेहरे पर मुस्कान और खुशी के आंसू देख सकता था। यह मेरे लिए और मेरी पत्नी के लिए आशीर्वाद था।’ डॉ अरिंदम चौधरी ने बताया, ‘मरीज की हालत गंभीर है और वह अपने बेटे की शादी देखना चाहती थीं। इसकी वजह से अस्पताल ने सारे इंतजाम किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please enter the Text *







'); var MainContentW = 1070; var LeftBannerW = 120; var RightBannerW = 160; var LeftAdjust = 10; var RightAdjust = 10; var TopAdjust = 80; ShowAdDiv(); window.onresize=ShowAdDiv; }